Home Shayari & Poetry

शब ए बारात मुबारक शायरी हिंदी में | Shab e Barat Mubarak Shayari in Hindi

259

 

शबशब ए बारात कब है

1
इस साल 2020 में शब ए बारात 8 या 9 अप्रैल को मनाया जाएगा
गुल को गुलशन मुबारक,
शायर को शायरी मुबारक,
चांद को चांदनी मुबारक,
आशिक को उसकी महबूबा मुबारक,
हमारी तरफ से आपको शब-ए-बारात मुबारक

2
रहमतों की आई है रातदुआ है आप सदा रहें आबाददुआ में रखना हमें भी यादमुबारक हो आपको ‘शब-ए-बारात

3
या अल्लाह शब-ए-बारात की मुबारक रातके सदके हमें बख्‍श देऔर हमारी दुआएं कुबूल फरमा 
मेरी तरफ से आप सबकोशब-ए-बारात मुबारक हो
4
रहमतों की आई है रात,नमाजों का रखना साथ,मनवा लेना रब से हर बात,दुआ में रखना हमें भी याद,

5
अगर मुझसे कोइ गलती हो गई हो तो मुझे माफ कर देनाआज ‘शब-ए-बारात’ है खुदा की इबादत कर लेना
6
या अल्लाह मैं तुझसे मांगता हूं,ऐसी माफी जिसके बाद कोई गुनाह न हो,ऐसी सेहत जिसके बाद कोई बीमारी न हो,ऐसी रजा जिसके बाद कोई नाराजगी न हो.शब-ए-बारात मुबारक

7
या अल्लाह शबे बारात इबादात की रात है
हमें ज़्यादा से ज़्यादा नेकियाँ कमाने की और बूरायों से दूर
रहने की तौफीक अता फरमा

8
या अल्लाह मैंने सबको माफ़ किया 
जिसने मेरे साथ बूरा किया
 मुझे दुख दिया
 जो मेरी गीबत है
 मुझे भी सब माफ़ कर देना
 अल्लाह माफ़ करने वालों को पसंद करता है

9
रही ज़िन्दगी तो फिर बात होगी रही ज़िन्दगी तो फिर बात होगी ना रही ज़िन्दगी तो बस याद होगी अगेर हो कोई गलती तो माफ कर देना क्या पता ये ज़िन्दगी की आखरी शबे ए रात होगी

10
या अल्लाह जिसने भी सब ए बारात के रात आप की इबादत में गुज़री या अल्लाह तू उन सब की दुआओं को कुबूल करना और जो नहीं कर पाए उन्हें हेदायत देना, और उनकी भी मगफिरत करना आआआआअमिन

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here