रोमांटिक शायरी हिंदी में लिखी हुई | Romantic Shayari

79

धोखा ना देना कि तुझपे ऐतबार बहुत है
ये दिल तेरी चाहत का तलबगार बहुत है
तेरी सूरत ना दिखे तो दिखाई कुछ नहीं देता
हम क्या करें कि तुझसे हमें प्यार बहुत है

अपनी सांसों में महकता पाया है तुझे
हर खवाब मे बुलाया है तुझे
क्यू न करे याद तुझ को
जब खुदा ने हमारे लिए बनाया है तुझे

तेरी आवाज़ से प्यार है हमें
इतना इज़हार हम कर नहीं सकते
हमारे लिए तू उस खुदा की तरह है
जिसका दीदार हम कर नहीं सकते

वो न आए उनकी याद वफ़ा कर गई
उनसे मिलने की चाह सुकून तबाह कर गई
आहट दरवाज़े की हुई तो उठकर देखा
मज़ाक हमसे हवा कर गई

तनहाई ले जाती है जहाँ तक याद तुम्हारी
वही से शुरू होती है जिंदगी हमारी
नहीं सोचा था हम चाहेंगे तुम्हें इस कदर
पर अब तो बन गए हो तुम किसमत हमारी

वो जो हमारे लिए ख़ास होते हैं
जिनके लिए दिल में एहसास होते हैं
चाहे वक़्त कितना भी दूर कर दे उन्हें
पर दूर रहकर भी वो दिल के पास होते हैं

खुदा से भी पहले तेरा नाम लिया है मैंने
क्या पता तुझे कितना याद किया है मैंने
काश सुन सके तू धड़कन मेरी
हर सांस को तेरे नाम से जिया है मैंने

बदलना नहीं आता हमें मौसम की तरह
हर एक रूप मैं तेरा इंतज़ार करता हूँ
ना तुम समझ सको कयामत तक
कसम तुम्हारी तुम्हे इतना प्यार करते है .

Romantic shayari Hindi mein likhi hui with image photo download
Romantic Shayari

दिल की धड़कन और मेरी सदा है तू
मेरी पहली और आखिरी वफ़ा है तू
चाहा है तुझे चाहत से भी बढ़ कर
मेरी चाहत और चाहत की इंतिहा है तू

गुनाह करके सजा से डरते हैं
जहर पी के दवा से डरते है
दुश्मनो के सितम का खौफ नहीं हमें
हम तो दोस्तों के खफा होने से डरते हैं.

ना जाने क्यों वो हमें मुस्कुरा के मिलते है
अंदर से सारे गम छुपा कर मिलते है
जानते हैं आँखे सच बोल जाती है
शायद इसी लिये वो नज़र झुका कर मिलते है

सपनों की मंज़िल पास नहीं होती,
ज़िंदगी हर पल उदास नहीं होती
खुदा पे यकीन रखना मेरा दोस्त
कभी कभी वो भी मिल जाता है
जिसकी कभी आस नहीं होती

हम वो नही जो तुम्हे गम में छोड़ देंगे
हम वो नही जो तुजसे नाता तोड़ देंगे
हम वो हे जो तुम्हारी साँसे रुके तो
अपनी साँसे छोड़ देंगे

गिले शिकवे दिलसे न लगा लेना.
कभी रूठ जाऊ तो मना लेना
.कल का क्या पता हम हो नहो
इसलिए जब भी मिलू प्यार से मेरा हाथ थाम लेना

तुम्हारा मेरा साथ चाहिए
जो रिश्ता ना टूटे वो हाथ चाहिए
तुमसे जुदा होने का जो ख्याल आये
तो रुक जाये बदन से वो सास चाहिए

तेरे साथ बिताया हुआ
एक एक पल मेरे लिए खास है
तू मेरी यादों के बहुत पास है
तेरे साथ जीने मरने की कस्मे खाना
बस तू साथ है तो सब साथ है

मेरे लबों पे बस तेरा नाम हो
मोहब्बत में ऐसा अपना काम हो
हीर राँझा की मिसाले लोग भूल जाएँ
अपनी मोहब्बत ही इतनी खास हो

Girlfriend boyfriend love romantic shayari in Hindi with image

शान से हम तेरे दिल में रहेंगे
तेरी मोहब्बत पे जान निसार करेंगे
देख के जलेंगी हमे दुनिया सारी
इस कदर बे-पनाह तुझे प्यार करेंगे

तुम्हारा दिल मेरे पास हो
तुम्हारी याद मेरे साथ हो
तुम्हें चाहे हम हैं कदर
तुम न हो तब भी तुम्हारी बात हो

आसमान में तारे कम है तुम्हारे लिए
ज़मीन भी कम है तुम्हारे लिए
देना तो बहुत कुछ चाहते हैं मगर
क्या करें कम्बख्त ये सारे काम हैं तुम्हारे लिए

सुबह में देखूं शाम में देखूं
तेरा प्यारा सा चेहरा मैं चाँद में देखूं
तेरे हुस्न की क्या तारीफ करूँ मैं
तेरा चेहरा मैं सरे जहाँ में देखूं

चाँद चांदनी के लिए लाये थे
ज़मीन पर सितारे समाये थे
दीवाने तो पहले से थे आपके हम
तभी तो हम आपके दीदार करने घर आये थे

मोहब्बत की गवाही अपने
होने की ख़बर ले जा
जिधर वो शख़्स रहता है
मुझे ऐ दिल! उधर ले जा

मैने मोहब्बत को तो नही देखा
पर लगता है ये तेरे जैसी ही होगी
मैने चखी है बहुत मिठाईयां
पर मुझे क्या पता था कि तेरे होठों
की लिपिस्टिक उनसे भी मीठी होगी

निभाया वादा हमने शिकवा ना किया
दर्द सहे मगर तुझे रुशवा ना किया
जल गया नशेमन मेरा ख़ाक अरमां हुए
सब तूने किया मगर मैंने कर्चा ना किया

आग दिल में लगी जब वो खफा हुए
महसूस हुआ तब, जब वो जुदा हुए
करके वफ़ा कुछ दे ना सके वो
पर बहुत कुछ दे गये जब वो बेवफ़ा हुए

Best romantic shayari Hindi mein likhi hui girlfriend boyfriend love romantic SMS with image

आप खुद नहीं जानती आप कितनी प्यारी हो
जान हो हमारी पर जान से प्यारी हो
दूरियों के होने से कोई फर्क नहीं पड़ता
आप कल भी हमारी थी और आज भी हमारी

अपनी निगाहों से ना देख खुदको
हीरा भी तुझे पत्थर लगेगा
सब कहते होंगे चाँद का टुकड़ा है तू
मेरी नज़र से देख चाँद तेरा टुकड़ा लगेगा

दीवानगी मे कुछ एसा कर जाएंगे
महोब्बत की सारी हदें पार कर जाएँगे
वादा है तुमसे दिल बनकर तुम धड़कोगे
और सांस बनकर हम आएँगे

सिर्फ मोहब्बत को पाना ही मोहब्बत नहीं होती
कभी तुम भी कर लेते ऐतबार तो ये दूरी ना होती
माफ़ कर देना गलतियों को मेरी
तुम्हे चोट पहुंचे ऐसी कभी मेरी तमन्ना नही होती

नजर चाहती है दीदार करना
दिल चाहता है प्यार करना
क्या बताये इस दिल का आलम
नसीब मे लिखा है इतजार करना

एक बार करके एतबार लिख दो
कितना है मुझसे प्यार लिख दो
कटती नहीं यह जिंदगी अब तेरे बिन
कितना और करूं इंतजार लिख दो

ना जाने किस शख्स का इंतज़ार हमें आज भी है
सुकून तो बहुत है पर दिल बेकरार आज भी है
तुमने हमे नफरतों के सिवा कुछ नही दिया लेकिन
हमें तुम्हारी नफरतों से प्यार आज भी है

लम्हें जुदाई को बेकरार करते हैं
हालत मेरे मुझे लाचार करते हैं
आँखे मेरी पढ़ लो कभी
हम खुद कैसे कहे की आपसे प्यार करते हैं

किस्मत यह मेरा इम्तेहान ले रही है
तड़प कर यह मुझे दर्द दे रही है
दिल से कभी भी मैंने उसे दूर नहीं किया
फिर क्यों बेवफाई का वह इलज़ाम दे रही है

छू ले आसमान ज़मीन की तलाश ना कर
जी ले ज़िंदगी खुशी की तलाश ना कर
तकदीर बदल जाएगी खुद ही मेरे दोस्त
मुस्कुराना सीख ले वजह की तलाश ना कर

आपके बदन को छूने का मन करता है
तेरी बाँहों का नशा पीने का मन करता है
तुम पास हो तो रोम-रोम रोमांटिक हो जाये
इसलिए तुम्हारे साथ एक रात गुजारने का मन करता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here