रोमांटिक शायरी हिंदी में लिखी हुई 2021 | Romantic Shayari

82
Romantic shayari ine Hindi
romantic shayari in Hindi

मेरे दिल ने जब भी दुआ माँगी है
तुझे माँगा है तेरी वफ़ा माँगी है
जिस मोहब्बत को देख के दुनिया को रश्क आये
तेरे प्यार करने की वो अदा माँगी है

दिल की बातों को आज कहना है तुमको
धड़कन बनके तेरे दिल में रहना है हमको
कही रुक ना जाए यह मेरी साँसें
इसलिए हर पल तेरे साथ जीना है हमको

मेरा हर लम्हा चुराया आपने
आँखों को एक ख्वाब देखाया आपने
हमें ज़िंदगी दी किसी और ने
पर प्यार में जीना सिखाया आपने.

तुम दूर हो मगर दिल में ये एहसास होता है
कोई है जो हर पल दिल के पास होता है
याद तो सब की आती है मगर तुम्हारी याद का
एहसास ही कुछ ख़ास होता है

दिल के समुन्दर में एक गहराई है
उसी गहराई से तुम्हारी याद आई है
जिस दिन हम भूल जाये आपको
समझ लेना हमारी मोत आई है

सर्द हवाओं ने गालों को छुआ है
शायद तुमने मेरा नाम लिया होगा
दिल की धड़कन रुक सी गयी है सीने में
शायद तुमने मुझे थाम लिया होगा

हुस्न-ए-बेनजीर के तलबगार हुए बैठे हैं
उनकी एक झलक को बेकरार हुए बैठे हैं
उनके नाजुक हाथों से सजा पाने को
कितनी सदियों से गुनाहगार हुए बैठे हैं

Romantic shayari Hindi mein likhi hui for girlfriend boyfriend saccha pyar with image

तुम्हारे नाम को होंठों पर सजाया है मैंने
तुम्हारी रूह को अपने दिल में बसाया है मैंने
दुनिया आपको ढूंढते ढूंढते हो जायेगी पागल
दिल के ऐसे कोने में छुपाया है मैंने

मेरे ख़ामोश होठों पर
मोहब्बत गुनगुनाती है
तू मेरी है मै तेरा हूं
बस यही आवाज़ आती है

ना महीनों की गिनती
ना सालों का हिसाब है.
मोहब्बत आज भी तुमसे
बेइंतहां बेहिसाब है

कभी लफ्ज़ भूल जाऊं कभी बात भूल जाऊं
तूझे इस कदर चाहूँ कि अपनी जात भूल जाऊं
कभी उठ के तेरे पास से जो मैं चल दूँ
जाते हुए खुद को तेरे पास भूल जाऊं

दिल की धड़कन और मेरी सदा है तू
मेरी पहली और आखिरी वफ़ा है तू
चाहा है तुझे चाहत से भी बढ़ कर
मेरी चाहत और चाहत की इंतिहा है तू

धोखा ना देना कि तुझपे ऐतबार बहुत है
ये दिल तेरी चाहत का तलबगार बहुत है
तेरी सूरत ना दिखे तो दिखाई कुछ नहीं देता
हम क्या करें कि तुझसे हमें प्यार बहुत है

चुराकर दिल मेरा वो बेखबर से बैठे हैं
मिलाते नहीं नजर हमसे अब शरमाये बैठे हैं
देख कर हमको छुपा लेते हैं चेहरा आँचल में
अब घबरा रहे हैं कि वो क्या कर बैठे हैं

तुम्हारी मदहोश आँखों ने
मेरे दिल का सिस्टम ही तोड़ दिया
जब से तुमने आई लव यू है कहा मुझे
मैंने तब से पढ़ना लिखना ही छोड़ दिया

Romantic shayari girlfriend boyfriend love with image

तुझे भूलकर भी न भूल पायेगें हम
बस यही एक वादा निभा पायेगें हम
मिटा देंगे खुद को भी जहाँ से लेकिन
तेरा नाम दिल से न मिटा पायेगें हम

प्यार मोहब्बत तो सभी करते हैं
दर्द-ए -जुदाई से सभी डरते हैं
हम न तुमसे प्यार करते हैं ना ही मोहब्बत
हम तो बस तुम्हारी एक मुस्कराहट के लिए तरसते हैं

चुपके से आकर इस दिल में उतर जाते हो
सांसों में मेरी खुशबु बनके बिखर जाते हो
कुछ यूँ चला है तेरे इश्क का जादू
सोते-जागते तुम ही तुम नज़र आते हो

छुपा लूं तुझको अपनी बाँहों में इस तरह
कि हवा भी गुजरने की इजाज़त मांगे
मदहोश हो जाऊं तेरे प्यार में इस तरह
कि होश भी आने की इजाज़त मांगे

अपनी सांसों में महकता पाया है तुझे,
हर खवाब मे बुलाया है तुझे
क्यू न करे याद तुझ को
जब खुदा ने हमारे लिए बनाया है तुझे

दिल की किताब में गुलाब उनका था
रात की नींद में ख्वाब उनका था
कितना प्यार करते हो जब हमने पूछा
मर जायंगे तुम्हारे बिना ये जबाब उनका था

शान से हम तेरे दिल में रहेंगे
तेरी मोहब्बत पे जान निसार करेंगे
देख के जलेंगी हमे दुनिया सारी
इस कदर बे-पनाह तुझे प्यार करेंगे

तेरी आवाज़ से प्यार है हमें
इतना इज़हार हम कर नहीं सकते
हमारे लिए तू उस खुदा की तरह है
जिसका दीदार हम कर नहीं सकते.

Romantic shayari Hindi mein likhi hui sachcha Pyar bhari shayari Hindi mein likhi hui photo

आँखों की चमक पलकों की शान हो तुम
चेहरे की हँसी लबों की मुस्कान हो तुम
धड़कता है दिल बस तुम्हारी आरज़ू में
फिर कैसे ना कहूँ कि मेरी जान हो तुम

वो न आए उनकी याद वफ़ा कर गई
उनसे मिलने की चाह सुकून तबाह कर गई
आहट दरवाज़े की हुई तो उठकर देखा
मज़ाक हमसे हवा कर गई

हमारे आंसूं पोंछ कर वो मुस्कुराते हैं
उनकी इस अदा से वो दिल को चुराते हैं
हाथ उनका छू जाये हमारे चेहरे को
इसी उम्मीद में हम खुद को रुलाते हैं

चुपके से आकर मेरे दिल में उतर जाते हो
सांसो में मेरी खुशबू बन कर बिखर जाते हो
कुछ यूँ चला है तेरे इश्क का जादू
सोतें जागते अब तो तुम ही तुम नज़र आते हो

किसी मोड़ पर उसका दीदार हो जाये
काश उसे भी मुझ पर एतवार हो जाये
उसकी पलके झुकें और इकरार हो जाये
काश उसे भी मुझ से प्यार हो जाये

एहसास के दामन में आंसू गिरा कर देखो
प्यार कितना है कभी हमे आज़मा कर देखो
बिछड़ कर तुमसे क्या होगी दिल की हालत
कभी किसी आईने पर पत्थर गिरा कर देखो

अपनी मोहब्बत से सजाना है तुझको
कितनी चाहत है तुझसे ये बताना है तुझको
राहों में तेरी बिछाकर मोहब्बत अपनी
इश्क के सफर पर ले जाना है तुझको

सूखे पत्तो से प्यार कर लेंगे हम
खुद पर फिर से ऐतबार कर लेंगे हम
सिर्फ एक बार कह दो तुम मेरे हो सनम
कसम से तेरा जिंदगी भर इंतज़ार कर लेंगे हम

इश्क के समंदर में सब डूबना चाहते हैं
इस्क में लोग कुछ खोते हैं तो कुछ पाते है
इश्क तो एक गुलाब है जो सब तोडना चाहते हैं
लेकिन हम तो ये गुलाब आपको देना चाहते हसीन

आग सूरज में होती है
पर जलना ज़मी को पड़ता है
मोहब्बत निगाहों से होती है
पर तड़पाना दिल को पड़ता है

अपनी जिंदगी के बस यही उसूल हैं
अगर तू कह तो काटें भी कुबूल हैं
हंस कर चल दूँ कांच के टुकड़ो पर भ
अगर तू कह ये मेरे बिछाये हुए फूल हैं

छू गया जब कभी ख्याल तेरा
दिल मेरा देर तक धड़कता रहा
कल तेरा ज़िक्र छिड़ गया घर में
और घर देर तक महकता रहा

बदलना आता नहीं हमें मौसम की तरह
हर इक रुत में तेरा इंतज़ार करते हैं
ना तुम समझ सकोगे जिसे क़यामत तक
कसम तुम्हारी तुम्हें इतना प्यार करते हैं

दिल की हर बात जमाने को बता देते हैं
अपने हर राज पर से परदा उठा देते हैं
आप हमें चाहें न चाहें इसका गिला नहीं
हम जिसे चाहें उस पर जान लुटा देते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here