दोस्ती शायरी हिंदी में लिखी हुई | Dosti Shayari

84

आसमान से तोड़ कर सितारा दिया है
आलम-ए-तन्हाई में एक शरारा दिया है
मेरी किस्मत भी नाज़ करती है मुझपे
खुदा ने दोस्त ही इतना प्यारा दिया है.

मिलना बिछड़ना सब किस्मत का खेल है
कभी नफरत तो कभी दिलों का मेल है
बिक जाता है हर रिस्ता इस जमाने में
सिर्फ दोस्ती ही यहाँ नोट फॉर सेल है

जो दिल के हो करीब उसे रुसवा नहीं करते
यूँ अपनी दोस्ती का तमाशा नहीं करते
खामोश रहोगे तो घुटन और बढ़ेगी
अपनों से कोई बात छुपाया नहीं करते

लोग रूप देखते है ,हम दिल देखते है
लोग सपने देखते है हम हक़ीकत देखते है
लोग दुनिया मे दोस्त देखते है
हम दोस्तो मे दुनिया देखते है

हर मोड़ पर मुकाम नहीं होता
दिल के रिश्तो का कोई नाम नहीं होता
चिराग की रौशनी से ढूँढा है आपको
आप जैसा दोस्त मिलना आसान नहीं होत

दिन बीत जाते है सुहानी यादें बनकर
बाते रह जाती है कहानी बनकर
पर दोस्त तो हमेशा दिल के करीब रहते है
कभी मुस्कान तो कभी आँखों का पानी बनकर

दोस्ती एक वो एहसास होता है
जो अनजाने लोगो को भी पास लाता है
जो हर पल साथ दे वही दोस्त कहलाता है
वरना तो अपना साया भी साथ छोड़ जाता है

शुक्रिया ए दोस्त मेरी जिंदगी में आने के लिए
हर लम्हों को इतना खूबसूरत बनाने के लिए
तू है तो हर खुशी पर मेरा नाम लिख गया है
शुक्रिया मुझे इतना खुश नसीब बनाने के लिए।

Dosti shayari Hindi mein likhi hui
दोस्ती शायरी हिंदी में लिखी हुई

दोस्ती नाम है सुख-दुःख की कहानी का
दोस्ती राज है सदा ही मुस्कुराने का
ये कोई पल भर की जान-पहचान नहीं है
दोस्ती वादा है उम्र भर साथ निभाने का

याद करते हैं हम यारो की दोस्ती,
यादों से दिल भर जाता है,
कल साथ जिया करते थे मिलकर
आज मिलने को दिल तरस जाता है

जब पता लगता है कि हम दोस्तों की
दोस्ती से कोई जलता है
फिर तब तक शकुन नहीं आता जब तक
हम अपनी हरकतों से उसे थोड़ा और ना जला लें

दोस्त वह नहीं जो मिट जाए
रास्तों की तरह कट जाए
दोस्तों वह प्यारा एहसास है
जिसमें सब कुछ पल भर में ही सिमट जाए

हमसे दोस्ती निभाते रहना
हर मोड़ पर आजमाते रहना
लेकिन दूर कभी मत जाना
चाहे सारी उम्र भर सताते रहना

वह मौत भी कितनी सुहानी होगी
जो यारो की यारी में आनी होगी
खुदा करे हम पहले मर जाएं
क्योंकि यारो के लिए जन्नत भी तो सजा नहीं होगी

अच्छा और सच्चा दोस्त एक फूल है
जिसे हम तोड़ भी नही सकते
और अकेला छोड़ भी नही सकते
अगर तोड़ लिया तो मुरझा जायेगा
और छोड़ दिया तो कोई और ले जायेगा

रौशनी के लिए दिया जलता हैं
शमा के लिए परवाना जलता हैं
कोई दोस्त न हो तो दिल जलता हैं
और दोस्त आप जैसा हो जो ज़माना जलता हैं

खता मत गिन दोस्ती में
कि किसने क्या गुनाह किया
दोस्ती तो एक नशा है
जो तूने भी किया और मैंने भी किया

Friendship shayari in Hindi with image best friendship shayari

तेरी दोस्ती में ज़िन्दगी में तूफान मचाएंगे
तेरी दोस्ती में दिल के अरमान सजायेंगे
अगर तेरी दोस्ती ज़िन्दगी भर साथ दे
तो हम दोस्ती में मौत को भी पीछे छोड़ जायेंगे

जब दोस्ती सच्ची और मजबूत होती है
तो उसे जताने की ज़रूरत नही होती है
चाहे दोस्त कितना भी दूर चला जाये
उसे पास लाने की ज़रूरत नही होती है

तेरे हर एक दर्द का एहसास है मुझे
तेरी मेरी दोस्ती पर बहुत नाज़ है मुझे
क़यामत तक न बिछड़ेंगे हम दो दोस्त
कल से भी ज्यादा भरोसा आज है मुझे

अगर दिल न मिले तो प्यार अधूरा होता है
चाँदनी के बिना चाँद कब पूरा होता है
दोस्तों की भूल कर ज़िन्दगी कटती नहीं
क्यूँकी हर एक फ्रेंड जरूरी होता है

दोस्ती एक वो एहसास होता है
जो अनजाने लोगो को भी पास लाता है
जो हर पल साथ दे वही दोस्त कहलाता है
वरना तो अपना साया भी साथ छोड़ जाता ह

हर तरफ कोई कीनारा न होगा
गैरों का क्या अपनों का भी सहारा न होगा
कर लो आजमाइश तुम सारी दुनियाँ की
मेरे जैसा कोई और दोस्त तुम्हारा न होगा

दोस्ती से बड़ी चाहत क्या होगी
दोस्ती से बड़ी इबादत क्या होगी
जिसे दोस्त मिल जाये आप जैसा
उसे ज़िंदगी से शिकायत क्या होगी

लोग रूप देखते है ,हम दिल देखते है
लोग सपने देखते है हम हक़ीकत देखते है
लोग दुनिया मे दोस्त देखते है
हम दोस्तो मे दुनिया देखते है

दोस्ती नज़ारों से हो तो उसे कुदरत कहते हैं
चाँद-सितारों से हो तो जन्नत कहते हैं
हसीनों से हो तो मोहब्बत कहते हैं
और आपसे हो तो उसे किस्मत कहते हैं

Dosti yaari shayari Hindi mein likhi hui with image photo per

खुशबू की तरह मेरी साँसों में रहना
लहू बनके मेरी नस-नस में बहना
दोस्ती होती है रिश्तों का अनमोल गहना
इसलिए दोस्त को कभी अलविदा न कहना

अंधेरों के लिए कुछ आफताब माँगे हैं
अपने लिए हमने दोस्त कुछ ख़ास माँगे हैं
जब भी दुआ में कुछ माँगा है खुदा से
तो आपके लिए खुशी के लम्हात माँगे हैं

हम तो पतझड़ में भी बहार ले आएंगे
हम गहरी उदासी में भी प्यार ले आएंगे
दोस्तों आप एक बार दिल से आवाज़ तो दो
हम तो आपके लिए मौत से भी साँसे उधार ले आएंगे

ज़िन्दगी के तूफानों का साहिल है दोस्ती
दिल के अरमानों की मंज़िल है दोस्ती
ज़िन्दगी भी बन जाएगी अपनी तो जन्नत
अगर मौत आने तक साथ दे दोस्ती

एहसास बहुत होगा जब छोड़ के जाएंगे
रोयेंगे बहुत मगर आँसू नहीं आएँगे
जब साथ कोई ना दे तो आवाज़ हमें देना
आसमान पर होंगे तो भी लौट के आएंगे

ऐ दोस्त तेरी दोस्ती पर नाज़ हैं
हर वक्त मिलने की फरीयाद करते हैं
हमें नहीं पता घर वाले बताते हैं
हम निंद में भी आपसे बात करते हैं

खामोशियों में धीमी सी आवाज़ है
तन्हाईयों में भी एक गहरा राज़ है
मिलते नही हैं सबको अच्छे दोस्त यहाँ
आप जो मिले हो हमें खुद पर नाज़ है

तेरे हर एक दर्द का एहसास है मुझे
तेरी मेरी दोस्ती पर बहुत नाज़ है मुझे
क़यामत तक न बिछड़ेंगे हम दो दोस्त
कल से भी ज्यादा भरोसा आज है मुझे

अगर दिल न मिले तो प्यार अधूरा होता है
चाँदनी के बिना चाँद कब पूरा होता है
दोस्तों की भूल कर ज़िन्दगी कटती नहीं
क्यूँकी हर एक फ्रेंड जरूरी होता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here