[42+] बेस्ट मोटिवेशनल शायरी हिंदी में | Best Motivational Shayari in Hindi

172
Best Motivational Shayari in Hindi 42
1
तेरी आजमाइश कुछ ऐसी थी खुदा,
आदमी हुआ है आदमी से जुदा,
ज़माने को ज़माने की लगती होगी,
पर धरती को किसकी लगी है बाद दुआ,
उदासी से तूफान के बाद परिंदे ने कहा,
चलो फिर आशियाँ बनाते हैं जो हुआ सो हुआ।
2
हदे शहर से निकली तो गाँव गाँव चली,
कुछ यादें मेरे संग पांव-पांव चली,
सफ़र जो धुप का हुआ तो तजुर्बा हुआ,
वो जिंदगी ही क्या जो छाँव छाँव चली।
3
अपने होसले को ये मत बताओ की,
तुम्हारी तकलीफ कितनी. बडी है,
अपनी तकलीफ को बताओ की,
तुम्हारा होंसला कितना बडा है?
4
मंज़िल क्या है, रास्ता क्या है,
हौंसला हो तोह फासला क्या है । 🙏
5
सपने उनके सच होते हैं
जिनके सपनों में जान होती है
पँखो से कुछ नहीं होता
हौंसलो से उड़ान होती है
6
 बहुत गिनाते रहे तुम गुण-दोष
अपने अंदर झाँक लो उड़द जायेंगे होश ।
7
रोशनी मुकद्दर में हो तो अँधेरे लौट ही जाते हैं
हौंसले बुलन्द हो तो रास्ते फिर खुल ही जाते हैं
8
 जीत निश्चित हो तोह कायर भी लड़ सकते हैं ,
बहादुर वह कहलाते है , जो हार निश्चित हो फिर भी मैदान नहीं छोड़ते ।
9
शोर गुल मचने से नाम नहीं बनता
काम ऐसा करो की ख़ामोशी भी अखबारों में चाप जाए ।
10
ना चिड़िया को कमाई है ना क़ारोबार कोई
मगर वो हौंसले से आबुदाना ढूंढ लेती है
उठाती है जो ख़तरा हर कदम डूब जाने का
वह कश्ती समुद्र का किनारा ढूंढ लेती है
11
खटकता तोह उनको हूँ साहब जहाँ में झुकता नहीं ,
बाकी जिन्हे अच्छा लगता हूँ वोह मुझे कभी झुकने नहीं देते ।
12
फूलों की तरह महकते रहो
सितारों की तरह चमकते रहो
किस्मत से मिली ये ज़िन्दगी
ख़ुद हँसो औरों को भी हँसाते रहो
13
खुद की तरक्की में इतना वक़्त लगा दो की दूसरे की बुराई करने का वक़्त ही न मिले ।
14
ज़िन्दगी प्यार की दो चार घड़ी होती है
कौन सी चीज़ मुहब्बत से बड़ी होती है
15
 जिंदगी में हर मौके का फायदा उठाओ ,
लेकिन कभी भी किसी की मजबूरी का फायदा मत उठाओ ।
16
तुमको मिल सकता है मुझसे बेहतर तो
हमको मिल सकता है तुमसे बेहतर
लेकिन तुम और हम ग़र मिल जाएं तो
कुछ और नहीं हो सकता इससे बेहतर
16
हर दीन दुखी मन में उमंग तुम्हे भरनी है
हर आशाहीन हृदय में तरंग तुम्हे भरनी है
महाभारत हर युग की अटल कहानी है
बनके अर्जुन सच्चाई की जंग तुम्हे लड़नी है
17
 गलती उसे कहते हैं जिससे आपने कुछ नहीं सीखा ।
18
मन की उमंगों को पँख लगाकर खुले आकाश में उड़ना चाहता हूँ
लहरों की करके सवारी साहिल को अपना बनाना चाहता हुँ
ऐ ख़ुदा हिम्मत दे मुझे इतना आसान नहीं मेरा सफ़र
क्योंकि में पत्थर को मोम और मोम को पत्थर बनाना चाहता हूँ
19
 अगर आप उस इंसान की तलाश कर रहे हैं जो आपकी जिंदगी बदल देगा ,
तोह आईने में देखिये ।
20
खुद को कमजोर समझके यूं नाकाम न कर
जिल्लत भरी जिंदगी जीते जीते उम्र तमाम न कर
अपनी ताकत से हवा का रुख बदलना है तुझे
आदमी होकर आदमियत को बदनाम न कर
21
मौका सबको मिलता है,
वक़्त सबका बदलता है,
कोई चाल चल जाता है,
कोई बर्दाश्त कर जाता है।
22
जब असफलता की चोट लगे गहरी,
तो सारा साहस बटोरकर, मुस्कुराहट ला सकते हो।
हारे हुए मन को जीने का साहस दिलाकर,
जीन की एक वजह से मिला सकते हो
23
 जिद्द करना सीखो , जो लिखा नहीं है मुकद्दर
 में उससे हासिल करना सीखो ।
24
हैं अंधेरे बहुत तुम सितारा बनों
डूबतों के लिए तुम किनारा बनो
इस ज़माने में है बेसहारा बहुत
तुम सहारा ना लो बस सहारा बनो
25
 ख्वाइश भले ही छोटी हो , लेकिन उसे पूरा करने 
क लिए दिल जिद्दी होना चाहिए ।
26
आँखों में पानी रखों, होंठो पे चिंगारी रखो
जिंदा रहना है तो तरकीबे बहुत सारी रखो
राह के पत्थर से बढ के कुछ नहीं हैं मंजिलें
रास्ते आवाज़ देते हैं सफ़र जारी रखो
27
 जबतक शांत हूँ शोर कर लो क्यूंकि जब मेरी बारी 
आएगी तब आवाज़ भी नहीं निकाल पयोगे ।
28
यहां जीवन जीकर सभी को मरना है,
दो वक्त की रोटी से अपना पेट भरना है।
फिर तकलीफों से क्यों डरता है दोस्त,
भला निराश होकर भी क्या करना है
29
खुद के सपनो के पीछे इतना भागो , की एक दिन
 तुम्हे पाना लोगो के लिए सपना बन जाए ।
30
हौंसला कम न होगा, तेरा तूफानों के सामने,
मेहनत को इबादत में बदल कर तो देख,
ख़ुद-ब-ख़ुद हल होगी जिन्दगी की मुश्किलें
बस ख़ामोशी को सवालों में बदल कर तो देख
31
कामयाब होने के लिए अकेले ही आगे बढ़ना पड़ता हैं,
 लोग तोह पीछे तब आते हैं जब आप कामयाब होने लगते हैं ।
32
इस दुनिया में कष्ट से कोई नहीं अछूता है,
किसी न किसी दुख से भरी गागर है।
हंसकर सहो तो कड़वी बूंदों के कुछ घूंट हैं,
रोकर सहो तो दुखों का विशाल सागर है।
33
वक़्त तुम्हारा है मेरे दोस्त ,चाहे तोह इसे सोना बना लो
 या फिर इसे सोने में गुज़ार लो ।
34
कांटो में रहकर भी फूलों की तरह महकना सीखो
कीचड़ में रहकर भी दोस्तों कमल की तरह खेलों
जो परिस्थितियों से घबरा जाए वो लौह पुरुष हो नहीं सकता
राख में रहकर भी अंगारों की तरह दहकना सीखो
35
 मेरे सपने मेरी नींद से कई गुना जरूरी है ।
36
रात इधर ढलती है तो दिन उधर निकलता है
कोई यहां रुकता है तो कोई वहां चलता है
एक द्वार बंद हुआ नहीं के दूसरा द्वार खुल ही जाता है
दीप और पतंगे में फर्क बस इतना है
एक जलकर बुझता है एक बुझकर जलता है
37
किसी की सलाह से रस्ते जरूर मिलते है,
पर मंज़िल तोह खुद की म्हणत से ही मिलती हैं ।
38
किस काम का वह हुनर
जिससे जीने का अंदाज ना आए
नकली है वो अल्फ़ाज़
जो बुलंदियों की परवाज ना सिखाए
39
 मुझे महंगे तोहफे ही पसंद हैं मेरे दोस्त अब अगली बार 
आओ तोह आपने साथ वक़्त ले आना ।
40
अमन चैन का जहां बसाए
आओ हम नवफूल खिलाएं
सच्चाई के पथ पर चलकर
इस जीवन को सफल बनाएं
41
कामयाबी कभी किसी डिग्री की मोहताज नहीं होती ,
बस मोहताज होती है तोह तेरी दिलो जान से की हुई मेहनत की ।
42
बेवज़ह दिल को ना भारी रखिये
ज़िन्दगी जंग है जंग को जारी रखिये
कितने दिन जियेंगे इसकी ना फ़िक्र कीजे
आज कैसे जियें बस इसकी शुमारी रखिये
42
जो काम दुनिया को नामुमकिन लगे 
,वही मौका होता है करतब दिखाने का ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here