बेस्ट हिंदी प्यार शायरी | Best Hindi love shayari

139

 

मेरी एक हसरत थी तुझे पाने की,
फिर पाकर न कभी दूर जाने की,
अब थक गया हूं, बहुत हार गया हूं,
बहुत बड़ी सजा मिली है, मुझे दिल लगाने की।
मेरी एक हसरत थी तुझे पाने की,
फिर पाकर न कभी दूर जाने की,
अब थक गया हूं, बहुत हार गया हूं,
बहुत बड़ी सजा मिली है, मुझे दिल लगाने की।

 

उसे भूल कर जिया तो क्या जिया
दम है तो उसे पाकर दिखा
लिख पथरों पर अपनी प्रेम कहानी
और सागर को बोल, दम है तो इसे मिटाकर दिखा!
ज़िन्दगी ने कितना मजबूर कर दिया।
लोग मांगते है ज़िन्दगी और हमें मौत से भी दूर कर दिया।
क्यों इतना सितम किया हम पर।
अपने दिल से न जोड़ते तुम
गम नही था हमें।
पर तुमने अपनी नफ़रत से भी दूर कर दिया।

 

मुजे चेहरा उसका याद रह गया है
मेरा दिल ख़ुशी से अब रेहता है
इस्तेमाल म्हारे खयाल नहीं आता कभी
जीस की याद में असग़र नशाद रहता है
के हसीन सा ख्वाब है तू
प्यार भरी किताब है तू
शायरी का मिजाज है तू
मेरे लिये मेरा आज है …
जब मिले हम दोनो से इक अजिब सी करामत हो गई
सोभा नहि ठाढि मिलिजे डोबरा
पार भगवन की दया से जलदा ही मुलकात हो गई
सोचता हूं क्या हो गया उस्का,
बार-बार क्यूं आता है ख्याल उस्का,

 

अब तक हुआ ना वीजा उस्का,
अब के बरस वो मुजे बहोत याद आया,
मेरी नज़र में ये है उसला,

 

मुजे गारो रेहता है तेरी आशनाई का
मगर सठ गम भी है तेरी जुदाई का

 

अगार तुझी नफ़रत मेरे नाम से है
फि र क्योन मोहब्बत मेरे कलाम से है

 

मोहब्बत में कैसी तफ़रीक़ के हम न काबिल
ह्यूमिन को मोहब्बत ख़ास-ओ-आम से है

 

मेरी रूह गुलाम हो गई है तेरी इश्क में 
शायद वरना यू चाहत पता ना था मेरी आदत तो ना थी

 

इतना लुफ्त ले रहे हैं लोग मेरी दर्द गम का 
आईएएस देख  तूने तूने मेरा तमाशा बना दिया

 

 तूने हसीन उदास किया है अगर तू 
इंसान होता तो तेरा कातिल में होता

 

कहर है मौत है सजा है सच तो यह है 
बुरी बला है करते सब है पर सब से हारा है

 

 मेरे किसी खता पर नाराज मत होना अपनी प्यार 
की मुस्कान कभी न खोना सुकून मिलता है 
देखकर आपकी मुस्कुराहट मुझे मौत भी आएगी तुम मत रोना

 

दिल के कोने से एक आवाज़ आती है
हमें हर पल उनकी याद आती है
दिल पूछता है बार – बार हमसे
के जितना हम याद करते है उन्हें
क्या उन्हें भी हमारी याद आती है

 

मुस्कराहट का कोई मोल नहीं होता
कुछ रिश्तो का कोई तोल नहीं होता
वैसे लोग तो मिल जाते है हर मोड़ पर
पर कोई आप की तरह अनमोल नहीं होता 

 

ज़िंदगी लेहर थी आप साहिल हुए
ना जाने कैसे हम आपके काबिल हुए
ना भुला पाएंगे हम उस हसीं पल को
जब आप हमारी ज़िंदगी में शामिल हुए ।

 

ज़िंदगी में आपकी एहमियत हम आपको बता नहीं सकते
दिल में आपकी जगह हम आपको दिखा नहीं सकते
कुछ रिश्ते बोहत अनमोल होते है
इससे जयादा हम आपको समझा नहीं सकते ।

 

सामने हो मंजिल तो कदम ना मोड़ना
जो दिल में हो वो खवाब ना तोडना
हर कदम पर मिलेगी कामयाबी आपको
सिर्फ सितारे छूने के लिए कभी जमी ना छोड़ना ।

 

 जाने क्यों हमें आंसू बहाना है आता
जाने क्यों हालेदिल बताना नहीं आता
क्यों साथी बिछड़ जाते है हमसे
शायद हमें ही साथ निभाना नहीं आता ।

 

ख़ामोशी इकरार से काम नहीं होती
सादगी भी सिंगार से काम नहीं होती
ये तो अपना अपना नज़रिया है मेरे दोस्त
वर्ना दोस्ती भी प्यार से काम नहीं होती ।

 

 एक सपने की तरह सजा कर रखु
अपने इस दिल में हमेशा छुपा कर रखु
मेरी तक़दीर मेरे साथ नहीं वर्ना
ज़िंदगी भर के लिए उसे अपना बना कर रखु 
मीठी मीठी यादे पलकों पे सजा लेना
एक साथ गुज़ारे पल को दिल में बसा लेना
नज़र ना आऊं हकीकत में अगर
मुस्कुरा कर मुझे सपनो में बुला लेना ।।

 

प्यार हम उनको करते हैं।
जो हमारी फ़िकर करते हैं।
कदर हम उनकी करते हैं।
जो हमारी इज्ज़त करतें हैं।
जीते हैं हम उनके लिए।
जो हम पर मरते हैं।

 

रसती नज़रो ने हर पल आपको ऐसे मागा।
जैसे हर अमावस में चांद मागा।
रूठ गया वो खुदा भी हमसे ।
जब हमने अपनी हर दुआ में आपको मागा।

 

जो प्यार का रिश्ता हम बनाते है।
उसे लोगो से क्यों छुपाते है।
क्या गुनाह है किसी को प्यार करना।
तो बचपन से हमे प्यार करना क्यों सिखाते है।

 

यादों की हवा ज़ख्मों की दवा बन गई।
दूरी उनकी मेरी चाहत की सज़ा बन गई।
कैसे भूलूं में उन्हें एक पल के लिए ।
उनकी याद ही मेरी जीने की वजह बन गई।

 

वख्त बदलता है जिंदगी के साथ।
ज़िन्दगी बदलती है वख्त के साथ।
वख्त नही बदलता अपनो के साथ।
बस अपने ही बदल जाते है वख्त के साथ।

 

किसी की धड़कनों के पीछे कोई बात होती है।
हर दर्द के पीछे कोई याद होती होती है।
आपको पता हो या ना हो।
आपकी हँसी या खुशी के पीछे हमारी फ़रयाद होती है।

 

दिल के बाज़ार में दौलत नही देखी जाती।
प्यार अगर हो जाये तो सूरत नही देखी जाती।

 

त बात मे जो रुठ जाते हैं।
अनजाने मे उनसे हाथ छूठ जाते है।
कहते है बड़े कमजोर होते हैं प्यार के रिश्ते।
इसमे हँसते हँसते दिल टूट जते हैं।

 

ऐसी क्या दुआ दूं आपको जो आपके लबो पर हँसी के फूल खिलें।
बस यही दुआ है मेरी सितारों से रोशन ख़ुदा आपकी तकदीर बने।

 

 पनी उल्फ़त का यकीन दिला सकते नही।
सारी ज़िन्दगी आपको भुला सकते नही।
हम ओर क्या दे आपको प्यार के सिवा।
चाँद ओर तारे तो ला सकते नही।

 

 इन दूरियों को जुदाई मत समझना
इन खामोशियो को नाराजगी मत समझना
हर हाल में साथ देंगे आपका
ज़िंदगी ने साथ न दिया तो बेवफाई मत समझना ।।
मुहब्बत को जब लोग खुदा मानते है
प्यार करने वालों को क्यों बुरा मानते है
जब जमाना ही पत्थर दिल है
फिर पथर से लोग क्यों दुआ मांगते है

 

क्यों सताते हो हमें बेगानो की तरह
कभी तो याद करो चाहने वालों की तरह
हम में थी कोई कमी जो आपको याद ना आये
आपमें थी कुछ बात जो हम आपको भुला ना पाये ।।

 

कुछ रिश्तों की चमक नहीं जाती
कुछ यादों की कसक नहीं जाती
कुछ दोस्तों से होता है ऐसा रिश्ता
के दूर रह कर भी उनकी महक नहीं जाती ।।

 

 वो समझे या ना समझे मेरे जज्बात को
मुझे तो मानना पड़ेगा उनकी हर बात को
हम तो चले जायेंगे दुनिया से एक दिन
मगर देख लेना वो सोंएगे अकेले हर रात को ।

 

कभी करते है ज़िंदगी की तमन्ना
तो कभी मौत का इंतज़ार करते है
वो हमसे क्यों दूर है पता नहीं
जिन्हे हम ज़िंदगी से भी ज़्यादा प्यार करते है ।

 

 रात गयी तो तारे चले गऐ
गैरों से क्या गिला जब हमारे चले गऐ
हम जीत सकते थे कई बाज़िया
बस  कुछ अपनों को जीताने के लिए हम हारे चले गऐ

 

 प्यार क्या होता है हम नहीं जानते
अपनी ही ज़िंदगी को हम अपना नहीं मानते
गम इतना मिला है के अब एहसास नहीं होता
प्यार कोई करे हमसे तो हमें विश्वास नहीं होता ।।
 जान है मुजको जिंदगी से प्यार,
जान के लिय कर दो कुर्बान यारी,
अब आप से प्यार करते हैं,
आप ही हो जान हमरी।

 

आपकी चाहत हमारी कहानी है
ये कहानी इस वक़्त की मेहरबानी है
हमारी मौत का तो पता नहीं
पर हमारी ये ज़िंदगानी सिर्फ आपकी दीवानी है |

 

दिल तोडो वालो को साजा क्यूं नहीं,
हर केसी को प्यार का दुआ नहीं,
लॉग केहते है इश्क से इक बिमारी है,
फेर मेडिकल मे हमकी कोइ डावा क्यु नाही।

 

उस नज़र की तरफ मत देखो
जो तुम्हे देखना से इनकार करती है
दुनिया की इस महफ़िल में उस नज़र को देखो
जो आपका इंतज़ार करती है ||

 

हर राट चांदनी राति न होति,
हर दोस्त मुझे आप सी बात न होति,
ना जाने खुदा को सी साजा दे रा है,
जो आजकल अनूप कुच बैट भी न होति।

 

उनकी यादो को प्यार करते है
लाखो जनम उन पर निसार करते है
अगर राह में मिले वो आपसे
तो कहना उनसे हम आज भी उनका इंतज़ार करते है

 

वो दिल ही क्या जो वफ़ा ना करे
तुझे भूल कर जीयूं खुदा ना करे
रहेगा तेरा प्यार ज़िंदगी बन कर
वो बार और है अगर ज़िंदगी वफ़ा ना करे ||

 

 प्यार में प्यार को आज़माया नहीं जाता
आज़मा कर प्यार कभी पाया नहीं जाता
प्यार पाने के लिए विश्वास की जरुरत है
बिना विश्वास प्यार कभी निभाया नहीं जाता ||
नाज़रो से नज़रो का तेवर हो गया,
हर मोद पार केसी का पूर्णार होत है,
दिल रोता है और मेरे जख्म जल्दबाजी में,
क्या है क्या नाम है प्यार है

 

ख़ामोशी इकरार से काम नहीं होती
सादगी भी सिंगार से काम नहीं होती
ये तो अपना अपना नज़रिया है मेरे दोस्त
वर्ना दोस्ती भी प्यार से काम नहीं होती ।

 

ज़िंदगी ज़ख्मों से भरी है,
वक़्त को मरहम बनाना सीख लो,
हारना तो मौत के सामने है,
ज़िन्दगी से तो जीतना सीख लो.

 

मोहब्बत हर इंसान को आजमाती है,
किसी से रूठ जाती है किसी पे मुस्कुराती है,
मोहबत खेल ही ऐसा है,
किसी का कुछ नहीं जाता किसी की जान जाती है.

 

करनी है खुदा से गुज़ारिश इतनी ,
तेरे प्यार क सिवा कोई बंदगी न मिले,
हर जनम में मिले प्यार तेरा,
या फिर कभी जिंदगी न मिले.

 

पानी से तस्वीर कहा बनती हे,
ख्वाबों से तकदीर कहा बनती हे ,
किसी से प्यार करो तो सच्चे दिल से,
क्यूंकि ये ज़िन्दगी फिर कहाँ मिलती हे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here