दुनिया की सबसे बेस्ट दोस्ती शायरी | Best Dosti Shayari

55

ज़िन्दगी इतिहास फिर नही दोहराती
हर पल हर मोड़ पर है दोस्तों की याद आती
ज़िन्दगी दोस्ती के लम्हो में है गुम हो जाती
उन लम्हो को सोच कर हमारी आँखे हैं नम हो जाती.

अच्छा और सच्चा दोस्त एक फूल है
जिसे हम तोड़ भी नही सकते
और अकेला छोड़ भी नही सकते
अगर तोड़ लिया तो मुरझा जायेगा
और छोड़ दिया तो कोई और ले जायेगा

ज़िन्दगी के सारे गम क्यों बाँट लेते हैं दोस्त,
क्यों ज़िन्दगी में साथ देते हैं दोस्त,
रिश्ता तो सिर्फ उनसे दिल का होता है जी,
फिर भी क्यों हमे अपना मान लेते हैं दोस्त।

दोस्ती वो नही जो मिट जाये
रास्तो की तरह कट जाये
दोस्ती तो वो प्यारा एहसास है
जिसमे सब कुछ पल भर में ही सिमट जाये

हमसे दोस्ती निभाते रहना
हर मोड़ पर आजमाते रहना
लेकिन दूर कभी मत जाना
चाहे सारी उम्र भर सताते रहना

तुम जो कहती हो कि छोड़ दो
अपने आवारा दोस्त को
क्या तुम मेरे जनाजा उठा सकती हो

दोस्ती वो नहीं होती जो जान देती है
दोस्ती वह नहीं होती जो मुस्कान देती है
असली दोस्ती वह होती है
जो पानी में गिरे आंसू को भी पहचान लेती है

सच्ची है मेरी दोस्ती आजमा के देखलो
करके यकीं मुझ पे मेरे पास आ के देखलो
बदलता नहीं कभी सोना अपना रंग
जितनी बार चाहे आग लगा कर देखलो

Best dosti shayari in Hindi with image photo download sms

शुक्रिया ए दोस्त मेरी जिंदगी में आने के लिए
हर लम्हों को इतना खूबसूरत बनाने के लिए
तू है तो हर खुशी पर मेरा नाम लिख गया है
शुक्रिया मुझे इतना खुश नसीब बनाने के लिए

रिश्ते किसी से कुछ यूँ निभा लो
की उसके दिल के सारे गम चुरा लो
इतना असर छोर दो किसी पे अपना
की हर कोई कहे हमें भी अपना बना लो

रिश्तों में प्यार की मिठास रहे,
कभी न मिटने वाला एहसास रहे
कहने को तो छोटी सी है .ये ज़िन्दगी लम्बी हो जाएगी अगर आप जैसे प्यारे दोस्त का साथ रहें

खुशबूं की तरह मेरी सासो मे बसना
रक्त बनकर मेरी रग रग मे बहना
दोस्ती होती है रिश्तों का कीमती गेहना
अपनें यार को कभी अलविदा न कहना

दुनियां रँग रूप देखती हैं हम जिगर देखते हैं
दुनिया सपने देखती है हम सच्चाई देखते है
दुनिया जहाँ मे दोस्त देखती हैं
हम दोस्ती में जहाँ देखते हैं

शायरी की जरूरत हर महफिल को होती है
हर दिल को अपनों सड़े प्यार की जरूरत होती है
बिना दोस्ती के जीवन अधुरा है क्योंकि
लाइफ में हर पल एक सच्चे दोस्त की जरूरत होती है

वायदा करते है दोस्ती का निभायेगे
फ़िक्र यही रहेगी तुम्हे ना सताएगें
याद आए कभी तो दिल से पुकारना
जहाँ छोड़ भी रहे होंगे तो छुट्टी लेकर आएगे.

मुस्कान का कोई मोल नही होता
कुछ रिश्तों का मोल नही होता
दुनिया में लोग हर जगह मिल जाते है
मगर कोई मेरे दोस्त सा अनमोल ना होता

चिराग रोशन थे जो यारो के अब ढलने लगे है
वादे मेरी खुद्दारी के अब खलने लगे हैं
चंद लकीरों तरक्की की मेरे माथे पे क्या पड़ी
जो कल तक साथ थे मेरे, अब जलने लगे है


दुनिया की सबसे बेस्ट दोस्ती शायरी

Best friendship shayari Hindi
Best Dosti Shayari

इश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है
इश्क मेरी रुह तो दोस्ती मेरी जान है
इश्क पर तो फिदा करदु अपनी पुरी जिंदगी
पर दोस्ती पर मेरा इश्क भी कुर्बान है

दिल से दोस्ती उसने कभी निभाई थी क्या
तन्हाइयों में उसे भी मेरी याद आई थी क्या
मैं तो सच में दोस्त मानती थी उसे
उसने मेरी दोस्ती में भी शर्त लगाई थी क्या

कौन जानता है किस मंज़िल को पाना है
कौन जानता हैदोस्ती के दो पल जी भर के जी लो यारो कब बिछड़ जाना है कौन जानता है

चीजों की कीमत मिलने से पहले होती है,
और इंसानों की कीमत खोने के बाद

आसमान से तोड़ कर सितारा दिया है
आलम-ए-तन्हाई में एक शरारा दिया है
मेरी किस्मत भी नाज़ करती है मुझपे
खुदा ने दोस्त ही इतना प्यारा दिया है

दिल की हर तमन्ना पूरी हो जाये ये ज़रूरी तो नही
दिल की हर दुआ पूरी हो जाये ये ज़रूरी तो नही
जब हमारा इतने प्यारे दोस्त का साथ हो
तो अब हमारा अब दिल धड़के ये ज़रूरी तो नही

दोस्ती से कीमती कोइ जागीर नहीं होती
दोस्ती से खुबसूरत कोई तस्वीर नहीं होती
दोस्ती यूँ तो कच्चा धागा है मगर
इस धागे से मजबूत कोई जंजीर नहीं होती

गुलाब की महक को चुराया नहीं जाता,
सूरज की रोशनी को छुपाया नहीं जाता,
दूरियां चाहे कितनी भी हो दोस्तों में,
लेकिन चाहकर भी दोस्तों को भुलाया नहीं जाता

तेरी दोस्ती मे जिंदगी में तूफान मचायेंगे
तेरी दोस्ती में दिल के अरमान सजाएंगें
अगर तेरी दोस्ती जिंदगी भर साथ दे
तो हम दोस्ती में मौत को भी पीछे छोड आएंगे

Duniya Ki Sabse best shayari Dosti Hindi mein likhi hui with image

करनी है खुदा से गुजारिश
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा
या फिर कभी जिंदगी न मिले

हम दोस्त बनाकर किसी को रुलाते नही
दिल में बसाकर किसी को भुलाते नही
हम तो दोस्त के लिए जान भी दे सकते हैं
पर लोग सोचते हैं की हम दोस्ती निभाते नही

रिश्तो से बड़ी चाहत और क्या होगी
दोस्ती से बड़ी इबादत और क्या होगी
जिसे दोस्त मिल सके कोई आप जैसा
उसे जिंदगी से कोई और शिकायत क्या होगी

फूल बनकर मुस्कुराना जिन्दगी है
मुस्कुरा के गम भूलाना जिन्दगी है
मिलकर लोग खुश होते है तो क्या हुआ
बिना मिले दोस्ती निभाना भी जिन्दगी है.

करनी है खुदा से गुजारिश
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा
या फिर कभी जिंदगी न मिले

छोटे से दिल में गम बहुत है
जिन्दगी में मिले जख्म बहुत हैं
मार ही डालती कब की ये दुनियाँ हमें
कम्बखत दोस्तों की दुआओं में दम बहुत है

चांद की हद रात तक है
सूरज की हद सिर्फ दिन तक है
हम दोस्ती में दिन-रात नहीं देखते
क्यूंकि हमारी दोस्ती की हद आखरी साँस तक है

यादों के भंवर में एक पल हमारा हो
खिलते चमन में एक गुल हमारा हो
जब याद करें आप अपने दोस्तों को
उन नामों में बस एक नाम हमारा हो

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here